क्या एनसीईआरटी पुस्तकों को पढ़ना आवश्यक है? (NCERT BOOKS)

क्या एनसीईआरटी पुस्तकों को पढ़ना आवश्यक है? (NCERT BOOKS)

क्या एनसीईआरटी पुस्तकों को पढ़ना आवश्यक है? Is it Necessary to read NCERT for UPSC

हां, और उसके ये कारण हैं: (Is it Necessary to read NCERT for UPSC)
1. एनसीईआरटी किताबें वह प्रामाणिक ज्ञान है जो यूपीएससी को बेसिक रूप से चाहिए।
2. अगर आप साइंस के छात्र हो तो जरूरी हो जाता है कि मानविकी का IN-DEPTH ज्ञान हो।
3. इन पुस्तकों की भाषा सरल है।
4. एनसीईआरटी पुस्तकों से कभी-कभी डायरेक्ट प्रश्न आ जाते है

NCERTकौन सा संस्करण बेहतर है? नया या पुराना?

मेरे अनुसार दोनों संस्करण काफी अच्छे हैं। पुराने और नए का हौवा बना दिया गया है, जिस किताब से प्रश्न आ जाते है लोग उसकी तुलना करने लगते है।मान लो नई एनसीईआरटी से प्रश्न आ गया तो बोलेंगे की नई अच्छी है , पुरानी से आ गया तो पुरानी को अच्छा बताया जाता है।

एनसीईआरटी पुस्तकों को कैसे पढ़ते हैं?

कहानी की तरह से पढ़ें और कॉन्सेप्ट मजबूत करें।

यदि एनसीईआरटी पाठ्यपुस्तकों को पढ़ा तो मैं कितने अंक हासिल कर सकता हूं?

यह अनुमान आज तक कोई नहीं लगा पाया है

क्या स्पेक्ट्रम की आधुनिक इतिहास जैसी पुस्तकों को पढ़ने के लिए पर्याप्त नहीं है?

किसी भी कार्य को करने से पहले उसका बेस बनाना पड़ता है जो कि एनसीईआरटी करती है। एक बार आधारभूत ज्ञान हो गया तो स्पेक्ट्रम जैसी बुक बहुत आसानी से समझ आ जाएगी।

क्या एनसीईआरटी पुस्तकों के नोट्स बनाने की आवश्यकता है?

यह व्यतिगत है कि आप नोट्स बनाते हो या फिर बुक में ही MARKING कर लेते हो। मेरे अनुसार महत्वपूर्ण टॉपिक्स के नोट्स बनाना ज़रूरी है।

क्या यह NCERT टेक्स्ट बुक कक्षा सात (7) से दस (10) तक पढ़ना जरूरी है?

हां संभव हो तो सारी पढ़ लें। एक तेज़ रिवीजन के QUICK NOTES भी बना लें।
यह आपकी पढ़ाई में काफी मदद करेगा।

4 thoughts on “क्या एनसीईआरटी पुस्तकों को पढ़ना आवश्यक है? (NCERT BOOKS)”

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *