आईएएस में शुरुआती तैयारी कहां से शुरू करें

आईएएस में शुरुआती तैयारी कहां से शुरू करें

HOW TO PREPARE FOR IAS/PCS आईएएस में शुरुआती तैयारी कहां से शुरू करें

देखो सबसे पहले सवाल होता है कि बेसिक क्वालिफिकेशन क्या है तो कोई भी ग्रेजुएट चाहे वह BA हो या बीटेक वह अगर ग्रेजुएट है तो देश के सबसे बड़े एग्जाम में बैठ सकता है।भारतीय नागरिक सेवाओं में अधिकारियों को शामिल करने के लिए यूपीएससी हर साल सिविल सेवा परीक्षा आयोजित करता है।

दूसरा यह कि कि कोई Specific नॉलेज या गणित वगैरा की जरूरत होगी तो उसका उत्तर है नहीं |

कोई भी इस एग्जाम में Appear कर सकता है उसकी पुरानी पढ़ाई कैसी भी रही हो बशर्ते अब उसे सर के बल खड़ा होना होगा इसमें कोई दो राय नहीं है।

तो Exam के 3 भाग होते हैं

1.PRELIMS

2.MAINS

3.INTRTERVIEW

जिनमें से प्रत्येक चरणों में उन उम्मीदवारों को खारिज कर दिया जाता है जो उस चरण में पास नही हो सके।

सबका पाठ्यक्रम नीचे लिखा हुआ है और सभी कुछ इस वेबसाइट पर उपलब्ध है।

अब अगला सवाल यह आता है की किताबें कौन सी खरीदनी होंगी

किताबों की लिस्ट कुछ समय में अपडेट कर दी जाएगी पर अभी के लिए एनसीईआरटी से शुरुआत बेहतर होगी।

हिंदी माध्यम बेहतर होगा या इंग्लिश मध्यम

पिछले कुछ समय से हिंदी माध्यम के गिरते रिजल्ट को देखते हुए अगर आप हिंदी माध्यम के छात्र हैं तो आपको दोगुना मेहनत करनी होगी तभी आप यहां एग्जाम पार कर सकते हैं ।यह कोई नहीं बताएगा कि हिंदी माध्यम में पढ़ाई करके आपने कितनी बड़ी गलती कर दी है पर इस गलती का खामियाजा ज्यादा मेहनत करके चुकाना होगा।

हिंदी के साथ साथ आपको बेसिक इंग्लिश का भी ध्यान रखना होगा क्योंकि प्रिलिम्स में क्वेश्चंस हिंदी में कभी-कभी समझ नहीं आते हैं चाहे आप कितने भी बड़े विद्वान हो जबकि अंग्रेजी में यह साफ समझ में आते हैं।

सफल होने के लिए कितना समय देना होगा

अगर मैं साफ बात करूं तो अगर आप शुरुआती दौर में है तो 3 साल और आप थोड़ा बहुत पढ़े हुए हैं यानी कि कोई कॉम्पिटेटिव एक्जाम की तैयारी कर चुके हैं तो 2 साल, निरंतरता सफलता की कुंजी रहेगी।

अपनी समझ से मैंने शुरुआती दौर के सारे क्वेश्चंस का उत्तर दे दिया है अगर कोई सवाल है तो नीचे कमेंट कर सकते हैं या फिर सीधा मैसेज कर दे, मैं हर संभव उत्तर देना चाहूंगा।

PRELIMS

पेपर का नामकुल योगसमय सीमाप्रश्नों की संख्यानिगेटिव मार्किंगप्रश्न पत्र का प्रकारअर्हता के लिए आवश्यक अंक
General Studies (जीएस)- Paper 1200 Marks2 hours100 QuestionsYesMarks counted for rankingCut-off prescribed by UPSC
CSAT – (सी-सैट) Paper 2200 Marks2 hours80 QuestionsYesQualifying Only33% (66/200)

नोट: यूपीएससी उम्मीदवारों को प्रत्येक गलत उत्तर देने पर उस प्रश्न के लिए आवंटित अंकों के 1/3rdभाग को पेनल्टी के रूप में काट लेता है।

UPSC Syllabus प्रश्नपत्र -1

प्रारंभिक परीक्षा के प्रश्नपत्र-1 का संबंध ‘सामान्य अध्ययन’ से है। इसका पाठ्यक्रम निम्नलिखित है-

1. राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्त्व की सामयिक घटनाएँ

2. भारत का इतिहास और भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन

3. भारत एवं विश्व का भूगोल : भारत एवं विश्व का प्राकृतिक, सामाजिक, आर्थिक भूगोल

4. भारतीय राज्यतंत्र और शासन- संविधान, राजनीतिक प्रणाली, पंचायती राज, लोकनीति, अधिकारों संबंधी मुद्दे इत्यादि

5. आर्थिक और सामाजिक विकास- सतत् विकास, गरीबी, समावेशन, जनसांख्यिकी, सामाजिक क्षेत्र में की गई पहल आदि

6. पर्यावरणीय पारिस्थितिकी, जैव-विविधता और जलवायु परिवर्तन संबंधी सामान्य मुद्दे, जिनके लिये विषयगत विशेषज्ञता आवश्यक नहीं है

7. सामान्य विज्ञान (General Science)।

UPSC Syllabus प्रश्नपत्र -2

प्रारंभिक परीक्षा के प्रश्नपत्र- 2  का संबंध ‘सीसैट’ से है। इसका पाठ्यक्रम निम्नलिखित है-

  • बोधगम्यता (Comprehension)।
  • संचार कौशल सहित अंतर-वैयक्तिक कौशल
  • तार्किक कौशल एवं विश्लेषणात्मक क्षमता
  • निर्णय लेना और समस्या समाधान
  • सामान्य मानसिक योग्यता
  • आधारभूत संख्ययन (संख्याएँ और उनके संबंध, विस्तार-क्रम आदि) (दसवीं कक्षा का स्तर); आँकड़ों का निर्वचन (चार्ट, ग्राफ, तालिका, आँकड़ों की पर्याप्तता आदि- दसवीं कक्षा का स्तर)

नोट – प्रारंभिक परीक्षा में वस्तुनिष्ठ प्रकृति के प्रश्न पूछे जाते हैं, जिसके अंतर्गत प्रत्येक प्रश्न के लिये दिये गए चार संभावित विकल्पों (a, b, c और d) में से एक सही विकल्प का चयन करना होता है। 

MAINS EXAMINATION

  • सिविल सेवा मुख्य परीक्षा में विषयों का बँटवारा अनिवार्य एवं वैकल्पिक विषयों  के रूप में किया गया है।
  • अनिवार्य विषयों में निबंध, सामान्य अध्ययन के चार प्रश्नपत्र, अंग्रेजी भाषा (क्वालिफाइंग) एवं हिंदी या संविधान की 8वीं अनुसूची में शामिल कोई भाषा (क्वालिफाइंग) तथा वैकल्पिक विषय के अंतर्गत विज्ञप्ति में दिये गए विषयों में से अभ्यर्थी द्वारा चयनित कोई एक वैकल्पिक विषय शामिल है। 

मुख्य परीक्षा की वर्तमान प्रणाली इस प्रकार है-

प्रश्नपत्र-1निबंध250 अंक
प्रश्नपत्र-2सामान्य अध्ययन-1: (भारतीय विरासत और संस्कृति, विश्व का इतिहास एवं भूगोल तथा समाज)250 अंक
प्रश्नपत्र-3सामान्य अध्ययन-2: (शासन व्यवस्था, संविधान, राजव्यवस्था, सामाजिक न्याय तथा अंतर्राष्ट्रीय संबंध)250 अंक
प्रश्नपत्र-4सामान्य अध्ययन-3: (प्रौद्योगिकी, आर्थिक विकास, जैव-विविधता, पर्यावरण, सुरक्षा तथा आपदा- प्रबंधन)250 अंक
प्रश्नपत्र-5सामान्य अध्ययन-4: (नीतिशास्त्र, सत्यनिष्ठा और अभिवृत्ति)250 अंक
प्रश्नपत्र-6वैकल्पिक विषय- प्रश्नपत्र-1250 अंक
प्रश्नपत्र-7वैकल्पिक विषय- प्रश्नपत्र-2250 अंक
प्रश्नपत्र-‘क’क्वालिफाइंग-1  अंग्रेज़ी भाषा300 अंक**
प्रश्नपत्र-‘ख’क्वालिफाइंग-2 हिंदी या संविधान की 8वीं अनुसूची में शामिल कोई भाषा300 अंक**
उप-योग (लिखित परीक्षा)1750 अंक
व्यक्तित्व परीक्षण (iNTERVIEW)275 अंक
कुल योग2025 अंक 
  • ** दोनों क्वालिफाइंग प्रश्नपत्रों के अंक योग्यता निर्धारण के लिये नहीं जोड़े जाते हैं।
  • क्वालिफाइंग’ प्रकृति के दोनों प्रश्नपत्र 300300 अंकों के होते हैं। भारतीय भाषा में न्यूनतम अर्हता अंक 25% (75) तथा अंग्रेज़ी में भी न्यूनतम अर्हता अंक 25% (75) निर्धारित किये गए हैं। 

6 thoughts on “आईएएस में शुरुआती तैयारी कहां से शुरू करें”

  1. Pingback: Delhi Sultanate Notes For Ias In Hindi कुतुबुद्दीन ऐबक इल्तुतमिश

  2. Pingback: श्वेत विद्रोह -White Mutiny | Exams IAS - Study Hard

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *