Cell Structure Koshika ki Sanrachna

Cell Structure Koshika ki Sanrachna

कोशिका प्रत्येक जीवधारी की आधारभूत संरचनात्मक व क्रियात्मक इकाई है। कोशिकाएँ स्वतः जनन का समर्थ्य रखती हैं। सजीवों की सभी जैविकक्रियाएँ कोशिकाओं के भीतर होती हैं। ऐसे जीव जो एक कोशिका से बने होते हैं उन्हें एककोशिकीय और ऐसे जीव जो एक से अधिक कोशिकाओं से मिलकर बने होते हैं उन्हें बहुकोशिकीय जीव कहते हैं। कोशिका की खोज सर्वप्रथम रॉबर्ट हुक ने 1665 ई. में की थी। सर्वप्रथम जीवित एवं मुक्त कोशिकाओं की खोज ल्यूवेनहॉक ने की थी। कोशिका के अध्ययन के विज्ञान को कोशिका विज्ञान (Cytology) कहा जाता है।


सेल बायोलॉजी नोट्स इन हिंदी

संसार की सबसे छोटी कोशिका ‘माइकोप्लाज्मा गैलिसेप्टिकम’ (Mycoplasma gallisepticum) नामक परजीवी जीवाणु की है

एवं संसार की सबसे बड़ी कोशिका शुतुरमुर्ग का अंडा (Egg of Ostrich) होती है।

मानव शरीर में पाई जाने वाली सबसे छोटी कोशिका सेरीबेलम की ग्रेन्यूल सेल (Granule Cell of Cerebellum) होती है। मानव शरीर में पाई जाने वाली सबसे बड़ी कोशिका अंडाणु (Ovum) होती है।


कोशिका की संरचना एवं कार्य – कोशिका कितने प्रकार के होते हैं

कोशिका तंत्रिका तंत्र का न्यूरॉन (Neuron) होती है। कोशिका में पाए जाने वाले केंद्रक की उपस्थिति के आधार पर कोशिकाएँ मूल रूप से दो प्रकार की होती हैं

1. प्रोकैरियोटिक

2. यूकैरियोटिक

Cell Structure Koshika ki Sanrachna

प्रोकैरियोटिक कोशिका (Prokaryotic Cells)

  • इसमें स्पष्ट केंद्रक का अभाव होता है।
  • इसमें केंद्रक झिल्ली (Nuclear Membrane) और केंद्रिका (Nucleolus) अनुपस्थित होते हैं।
  • इनमें पाए जाने वाले गुणसूत्र (Chromosome),जो आनुवंशिक पदार्थ (DNA) द्वारा निर्मित होते है, वे कोशिका द्रव्य के विशेष क्षेत्र अर्थात् न्यक्लिओइड (Nucleoid) में मौजूद रहते हैं तथा ये कोशिका द्रव्य (Cytoplasm) में बिखरे रहते हैं।
  • कोशिका द्रव्य में झिल्ली युक्त कोशिकांग जैसे- माइटोकॉड्रिया, हरित लवक, गॉल्जीकाय, लाइसोसोम अनुपस्थित होते हैं। परंतु 70S प्रकार के राइबोसोम्स पाए जाते हैं।
  • इनमें DNA प्रोटीन के साथ जुड़ा नहीं होता एवं हिस्टोन प्रोटीन का पूर्णतः अभाव होता है।
  • इनमें गुणसूत्रों की संख्या केवल एक होती है।
  • इस प्रकार की कोशिकाएँ, जीवाणु तथा नील हरित शैवाल . (Blue-green Algae) में पाई जाती हैं।

यूकैरियोटिक कोशिका (Eukaryotic Cells)

  • इनमें पूर्ण विकसित केंद्रक पाया जाता है।
  • इसमें केंद्रक झिल्ली और केंद्रिका उपस्थित होते हैं। कोशिका द्रव्य में झिल्ली युक्त सभी कोशिकांग (Cell Organelles) उपस्थित होते हैं। इनमें 70S एवं 80s दोनों प्रकार के राइबोसोम पाए जाते हैं।
  • इनमें एक से अधिक गुणसूत्र पाए जाते हैं।
  • इसमें DNA प्रोटीन के साथ जुड़ा हुआ होता है तथा हिस्टोन प्रोटीन उपस्थित होता है।
  • विषाणु एवं जीवाणु को छोड़कर ये कोशिकाएँ सभी पौधे तथा जंतु में पाई जाती हैं।

2 thoughts on “Cell Structure Koshika ki Sanrachna”

  1. Hello

    YOU NEED QUALITY VISITORS FOR YOUR: examsias.com ?

    WE PROVIDE HIGH-QUALITY VISITORS WITH:
    – 100% safe for your site
    – real visitors with unique IPs. No bots, proxies, or datacenters
    – visitors from Search Engine (by keyword)
    – visitors from Social Media Sites (referrals)
    – visitors from any country you want (USA/UK/CA/EU…)
    – very low bounce rate
    – very long visit duration
    – multiple pages visited
    – tractable in google analytics
    – custom URL tracking provided
    – boost ranking in SERP, SEO, profit from CPM

    CLAIM YOUR 24 HOURS FREE TEST HERE=> [email protected]

    Thanks, Sylvester Dampier

  2. Hello

    YOU NEED HELP TO BUILD SEO LINKS FOR: examsias.com ?

    I just checked out your website, and wanted to find out if you need help for SEO Link Building ?

    WE OFFER YOU THE BEST SEO STRATEGY FOR 2021.

    Build an unlimited number of Backlinks and increase Traffic to your websites which will lead to a higher number of customers and much more sales for you.

    If You Are Interested, I’m waiting for your response here => [email protected]

    Thanks, Darrell Rudnick

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *