manav pachan tantra

Manav Pachan Tantra – Human Digestive System

Manav Pachan Tantra ka chitra Human Digestive System digestive system diagram gastrointestinal tract digestive system function digestive system organs digestive system process stomach diagram pancreas function digestive system intestinal tract stomach function in digestive system structure of digestive system digestive system of human body about digestive system enzymes in the digestive system complete digestive system explain digestive system
food digestion process

पाचन तंत्र (Digestive System)

पाचन तंत्र में शामिल अंगो को 2 भाग में बांटा जा सकता है-

1)आहार नाल

2)पाचन ग्रंथियां

Manav Pachan Tantra - Human Digestive System
Manav Pachan Tantra ka Chitra

आहार नाल में पाचन (ALIMENTARY CANAL OR GASTROINTESTINAL TRACT)

यह एक लम्बी नलिका होती है जो मुंह से एनस तक होती है यह लगभग 25-30 फीट लंबी होती है, यह निम्न भागों से होती हुई जाती है-

(a) मुखगुहा

(b) ग्रसनी

(c) ग्रासनली

(d) अमाशय

(e) आँत (छोटी आँत एवं बड़ी आँत)

मुखगुहा में पाचन (Oral Cavity or Buccal Cavity)

  • मुखगुहा में पाचन (Digestion in the oral cavity) सबसे पहले भोजन दांतों से चबाकर छोटा किया जाता है
  • जीभ के उपर टेस्ट बड्स (taste buds)पाए जाते है जो किसी भी स्वाद का अनुभव कराते है।
  • मनुष्य में तीन जोड़ी लार ग्रंथियां होती है यह सारी लार स्रावित करती है इनमें सिर्फ 1% एंजाइम (enzyme) होता है बाकी पानी होता है।और इनमे 2 एंजाइम होते है।
    • 1)टायलिन (Tylin)
    • 2)लिजोजाइम (Lijozyme)
  • छोटे भाग में भोजन में लार (saliva) मिल जाती है और लार में टायलिन नामक एंजाइम होता है। यह मुख्य रूप से कार्बोहाइड्रेट के साथ रासायनिक क्रिया करता है। यह स्टार्च (starch’s)को माल्टोस में तोड़ देता है।
  • लिसोसोम भोजन में उपस्थित जीवाणुओं को खत्म कर देता है।

– मेंढक और व्हेल मछली में लार-ग्रंथियाँ नहीं पाई जाती हैं।

ग्रसनी (Pharynx) में पाचन

मुखगुह का पीछे (buccal part of the mouth) का को भाग होता है इसे ग्रसनि कहते है। इसका कोई काम नहीं होता है, बस आपको नाम पता होना चाहिए।

ग्रासनली (Esophagus) में पाचन

ग्रासनली (Esophagus), मुखगूहा से यह भोजन अमाशय तक पहुंचती है।इसकी क्रमाकुंचन क्रिया से यह भोजन नीचे खिसका पाती है, यहां भी पाचन कि कोई क्रिया नहीं होती है। This food reaches the stomach from the buccal cavity with the help of Esophagus.

आमाशय (STOMACH) में पाचन

Digestive system diagram gastrointestinal tract
Digestive system diagram
  • अमाशय की पीछे की तरफ जठर ग्रंथियां (Gastric Gland)होती है। जैसे ही भोजन अमाशय में पहुंचता है , इस पर तेज़ी से जठर रस की बौछार की जाती है, इस रस के 2 प्रमुख भाग होते है – पेप्सिन (Pepsin) नामक एंजाइम और हाइड्रोक्लोरिक एसिड।
  • जठर रस बेहद अम्लीय होता है इसका पीएच मान 1.8 होता है।
  • Pepsin की प्रमुख क्रिया प्रोटीन पर होती है। HCL की उपस्थिति में पेप्सोनोजस, एक्टिव पेप्सिन में बदल जाता है
  • इसी प्रकार HCL की उपस्थिति में निष्क्रिय प्रोरेनिन रेनिन र में बदल जाता है और यह रेनिंग दूध में उपस्थित कैसीनोजस प्रोटीन को casein में परिवर्तित कर देता है।
  • म्यूकस जठर रस में जो अम्लीय प्रभाव पाया जाता है उसको कम करके अमाशय की रक्षा करता है।
  • जठर रस में २ और एंजाइम होते है,
  • एमाइलज और लाइपेज
  • एमाइलज कार्बोहाइड्रेट पर कार्य करता है और लाइपेज वसा पर कार्य करता है|

पाचन तंत्र का PDF डाउनलोड करें

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *